'फ्री वाई-फाई के लिए 73% भारतीय अपनी निजी सूचनाएं उपब्ध कराने को तैयार'

July 19, 2017, 11:12 am
Share on Whatsapp
img

भारत में बड़ी तादाद में लोगों को मुफ्त वाई-फाई उपयोग करने को नहीं मिलता, ऐसे में एक अध्ययन में सामने आया है कि यदि उन्हें अच्छे मुफ्त वाई-फाई की सेवा मिले तो करीब 73% लोग उसके लिए अपनी निजी जानकारी साझा करने में भी कोई परहेज नहीं करेंगे.

एंटीवायरस बनाने वाली सॉफ्टवेयर कंपनी नॉर्टन ने अपनी 'वाई-फाई जोखिम रिपोर्ट' में कहा है कि अब सेवाओं को चुनने में भी मुफ्त वाई-फाई एक बड़ा मापदंड बनता जा रहा है. करीब 82% लोग होटल चुनने, 67% परिवहन सेवा चुनने, 64% विमानन सेवा चुनने और 62% रेस्तरां इत्यादि चुनने में इस विकल्प को तरजीह देते हैं.

यह भी पढ़ें

पीसीओ की तरह वाई-फाई के लिए खुलेंगे पीडीओ, दो से 20 रुपये तक में मिलेगी इंटरनेट सेवा

रिपोर्ट में कहा गया है कि सर्वेक्षण में शामिल 51% भारतीयों ने माना कि वाई-फाई क्षेत्र में आने के बाद इंटरनेट से जुड़ने के लिए वह कुछ मिनट का इंतजार भी नहीं कर पाते हैं.

यह भी पढ़ेंReliance Jio के ग्राहकों का डेटा चोरी होने की ख़बर, कंपनी ने किया खंडन

करीब 19% लोगों का कहना है कि मुफ्त वाई-फाई के लिए वह अपने निजी ई-मेल और संपर्क सूची को साझा करने के लिए तैयार हैं, वहीं 22% इस सेवा के लिए अपने निजी फोटो भी साझा करने को तैयार हैं.

दिलचस्प तथ्य यह है कि करीब 74% लोगों का मानना है कि सार्वजनिक वाई-फाई सेवा का उपयोग करने के दौरान उनकी निजी जानकारी सुरक्षित रहती है.

Similar Post You May Like

Around The World

loading...

More News