लेडी लक ने बदला युवराज का भाग्य

January 6, 2017, 6:51 pm
Share on Whatsapp
img

नई दिल्ली- कहते हैं लेडी लक किसी का भी भाग्य बदल सकता है और यह बात मध्य क्रम के स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह के लिये सटीक बैठती है। लंबे समय से टीम इंडिया में वापसी के लिये प्रयासरत युवराज सिंह ने दिसंबर के शुरु में हेजल कीच के साथ विवाह रचाया था और विवाह के एक महीने के बाद ही उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ 15 जनवरी से शुरु हो रही वनडे तथा ट्वंटी-20सीरीज के लिये दोनों टीमों में चुन लिया गया। 35 वर्षीय युवराज की वापसी कुछ चौंकाने वाली रही लेकिन चयनकर्ताओं ने2016-17 रणजी सत्र में उनके प्रदर्शन पर भरोसा जताया। चयनकर्ता प्रमुख एमएसके प्रसाद ने भी कहा कि  युवराज जिस तरह घरेलू क्रिकेट में खेले हमें उसकी सराहना करनी चाहिये। हम यही सोच रहे थे कि वह लंबी पारियां नहीं खेल पा रहे हैं लेकिन उन्होंने एक दोहरा शतक बनाया और लाहली में तेज गेंदबाजों की स्वर्ग कहे जाने वाली पिच पर 177 रन की बेहतरीन पारी खेली। युवराज ने इस रणजी सत्र में लाहली में मध्यप्रदेश के खिलाफ 177 और 76 ,दिल्ली में बडौदा के खिलाफ 260 और हैदराबाद में उत्तर प्रदेश के खिलाफ 85रन जैसी पारियां खेली थीं।

उन्होंने इस सत्र में पंजाब के लिये पांच मैचों में 84.00 के औसत से 672 रन बनाये1 2011 के विश्वकप में भारत की खिताबी जीत में मैन आफ द टूर्नामेंट रहे युवराज ने अपना आखिरी वनडे 11 दिसंबर 2013 को खेला था। इस फार्मेट में उन्होंने पिछले 19 मैचों में 18.53 के औसत से रन बनाये थे। उन्होंने अपना आखिरी ट्वंटी-20 मैच 27 मार्च 2016 को खेला था। युवराज का यह ट्वंटी-20 मैच विश्व कप का मैच था। युवराज ने 293 वनडे में 8329 रन और 55 ट्वंटी-20 में 1134 रन बनाये हैं।

Similar Post You May Like

Around The World

loading...

More News