वे कहते हैं मोदी हटाओ हम कहते हैं भ्रष्टाचार कालाधन हटाओ-मोदी

January 2, 2017, 5:23 pm
Share on Whatsapp
img

लखनऊ- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने की अपील करते हुए आज कहा है कि देश का भाग्य बदलने के लिए इस सूबे की तकदीर बदलनी ही होगी।

मोदी ने रमाबाई अंबेडकर मैदान में भारतीय जनता पार्टी की महा परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदुस्तान का भाग्य बदलने के लिए यूपी का भाग्य बदलना होगा। यूपी के लोग राजनीतिक दृष्टि से समझ रखने वाले हैं। उनकी बुद्धि दूध का दूध और पानी का पानी करने का सामर्थ्य रखती है।

देश का भाग्य बदलने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा किये जा रहे कामों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मैं तो कालाधन और भ्रष्टाचार हटाने में लगा हुआ हूं और विपक्ष मुझे ही हटाने में अपनी पूरी शक्ति लगा रहा है। वे कहते हैं मोदी हटाओ। हम कहते हैं भ्रष्टाचार कालाधन हटाओ। देश की जनता को तय करना है कि हमें क्या करना है। 

मोदी ने कहा कि जब वह भ्रष्टाचार खतम करने की बात शुरू ही करते हैं कि एक दूसरे के धुर विरोधी समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी भी इकट्ठे हो जाते हैं। इनका मुद्दा सिर्फ एक ही रहता है मोदी को हटाओ। उन्होंने अपील की कि एक बार जात-पात और अपने पराये से ऊपर उठकर विकास के लिए वोट दें। विश्वास दिलाता हूं कि उत्तर प्रदेश बदलेगा। मैं उत्तर प्रदेश से सांसद हूं। यहां की सरकार का काम देखकर पीड़ा हुई। मेरे संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी रोड बनवानी होती है तो देखा जाता है कि इसके लिए किसने सम्पर्क किया है। राजनीति में मतभेद तो होते ही हैं लेकिन रास्ता बनना भी जरुरी है। सभी सांसद कहते हैं कि विकास में भी भेदभाव हो रहा है। आखिर यह कब तक चलेगा।

 प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार बनने के बाद उत्तर प्रदेश को ढाई लाख करोड रुपये अतिरिक्त दिये गये हैं। अगर इन पैसों का सदुपयोग हुआ होता तो यह राज्य विकास में कहां से कहां पहुंच गया होता लेकिन यहां की सरकार की प्राथमिकता में विकास है ही नहीं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि लोग कहते हैं कि भाजपा का आगामी राज्य विधानसभा चुनाव में 14 साल का वनवास खत्म होगा। पार्टी विकास को कभी इस तराजू से नहीं तौलती।

उन्होंने कहा कि मुद्दा ये नहीं है कि 14 साल के लिए उत्तर प्रदेश यूपी में भाजपा का वनवास हो गया। मुद्दा ये है कि इस प्रदेश में विकास का वनवास हो गया।

महारैली में आयी भीड़ से उत्साहित प्रधानमंत्री ने कहा 14 साल बाद यूपी की धरती पर विकास का नया अवसर आने का नया नजारा देख रहा हूं। सूबे में आगामी विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर भाजपा द्वारा नवम्बर दिसम्बर में आयोजित छह परिवर्तन रैलियों के बाद यहां आयोजित इस महारैली के मद्देनजर रैली स्थल के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूरे शहर को झंडे, पोस्टर और बैनरों से पाट दिया था।

मोदी ने कहा कि आपने मुझे एमपी बनाया। जी-भरकर मेरी मदद की। 30 साल बाद केन्द्र में पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। मैं छोटी सोच नहीं रखता इसलिए सबका साथ सबका विकास चाहता हूं। कुछ लोगों की राजनीतिक सोच बहुत निम्न कोटि की हो गयी है। दो-तीन दिन पहले भीम नाम का एक मोबाइल एप लांच किया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि डा0 भीमराव अम्बेडकर को आर्थिक चिन्तन में महारथ हासिल थी। अस्सी साल पहले ही उन्हें रुपये की ताकत का पता चल गया था।

बैंकिंग और आर्थिक कारोबार के बारे में उन्हें पूरी जानकारी थी। ऐसे व्यक्ति के नाम पर एप लांच किया गया तो किसी के पेट में चूहा क्यों दौड़ता है। वह तो चाहते हैं कि घर-घर भीम एप का प्रयोग हो। इससे बड़ी श्रद्धांजलि डा0 अम्बेडकर को नहीं दी जा सकती। मोदी ने जनता से अपील की कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनवाइये। वह विश्वास दिलाते हैं कि गुण्डागर्दी खत्म कर सुख चैन की जिन्दगी मिलेगी। उनकी सरकार गरीबों के लिए समर्पित है। गरीबों, गांव, छोटे कारोबारियों की मदद की योजना बनायी तो कुछ लोगों को परेशानी हो रही है। मोदी पैसा ले ले तो पेरशानी और गरीबों को दे दे तो परेशानी। उन्होंने कहा कि विरोधी अप्रासंगिक हो गये हैं इसलिए परेशान हैं। उनकी कुर्सियां खिसक गयी हैं। भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ लड़ाई रुकने वाली नहीं है। इसे जड़ से उखाड़कर ही दम लेंगे। गरीबों का हक दिलाने के लिए लड़ाई छेड़ी है। जनता का आशीर्वाद चाहिए। अन्य दलों के लिए यह चुनाव सत्ता हथियाने का प्रयास हो सकता है। कौन मुख्यमंत्री बने इसका खेल हो सकता है लेकिन भाजपा के लिए यह हार जीत का नहीं बल्कि जिम्मेदारी निभाने का चुनाव है। प्रधानमंत्री ने कहा कि विकास में राजनीति नहीं होनी चाहिए क्योंकि इससे विकास रुक जाता है और जनता पिछड़ जाती है। राज्य सरकार पर किसानों की उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि केन्द्र की पूरी मदद के बावजूद राज्य सरकार के पास किसानों के धान खरीदवाने की फुर्सत नहीं है। इसी तरह दाल की कमी को किसानों ने अपने मेहनत से पूरा कर दिया लेकिन राज्य सरकार उन्हें उनकी फसल का उचित मूल्य नहीं दिलवा रही है। गन्ना किसानों के मामले में भी यही हालत है। मोदी ने कहा कि वह चाहते हैं कि देश आगे बढे। गरीबी निरक्षरता और बीमारी मिटे लेकिन हिन्दुस्तान का यह सपना तब तक पूरा नहीं होगा जब तक उत्तर प्रदेश से यह कठिनाइयां दूर नहीं होंगी। अपने जीवन की सबसे बड़ी रैली सम्बोधित करने का दावा करते हुए मोदी ने कहा कि पॉलिटिकल पंडित देख लें कि यूपी का चुनाव किस दिशा में जाएगा, उसका हिसाब किताब लगाने वालों को अब मेहनत नहीं करनी पड़ेगी क्योंकि हवा का रुख साफ-साफ नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि वह बड़े गर्व और संतोष के साथ कह सकते हैं कि कल्याण सिंह, राम प्रकाश गुप्त और राजनाथ सिंह के नेतृत्व में जो भाजपा की सरकार चली उसकी आज भी लोग मिसाल देते हैं। लखनऊ की धरती अटल बिहारी वाजपेयी जी की कर्मभूमि है। अटलजी जैसे महापुरुषों ने अपनी जवानी इस धरती पर खपाई। पसीना बहाया। रात-दिन एक करके पूरे हिंदुस्तान में भारतीय जनता पार्टी का वटवृक्ष तैयार किया। महारैली को केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र, उमा भारती, मेनका गांधी तथा भाजपा उपाध्यक्ष ओम माथुर भी मौजूद थे। मोदी ने इसके पहले 11 अक्टूबर को लखनऊ में ऐशबाग स्थित रामलीला मैदान में आयोजित एक जनसभा को संबोधित किया था। इस दौरान दुनिया की सभी शक्तियों को दहशतगर्दी के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान करते हुए कहा था कि आतंकवादियों को पनाह और मदद देने वालों को समाप्त करना जरूरी हो गया है।

Similar Post You May Like

Around The World

loading...

More News